Chaha Hai Tujhko | very sad hindi shayari03:51

  • 0
Published on January 31, 2018

Chaha Hai Tujhko | very sad hindi shayari

अच्छा लगता है तेरा नाम मेरे नाम के साथ !

जैसे कोई सुबह जुड़ी हो किसी हसीन शाम के साथ !!

Na gulfaam chahiye, Na salaam chahiye,
Na mubarak ka koi paigam chahiye,
Jisko pee ker hosh urr jayain,
Labon ko aisa.. jaam chahiye!!

 

न गुलफ़ाम चाहिए, न सलाम चाहिए,
न मुबारक का कोई पैग़ाम चाहिए,
जिसको पी कर होश उड़ जायें,
लबों को ऐसा.. जाम चाहिए!

 

Palkon ko jab-jab aapne jhukaya hai,
Bas ek hi khayal dil mein aaya hai.
Ki jis khuda ne tumhein banaya hai,
Tumhein dharti par bhejkar woh kaise jee paya hai.

पलकों को जब-जब आपने झुकाया है,
बस एक ही ख्याल दिल में आया है,
कि जिस खुदा ने तुम्हें बनाया है,
तुम्हें धरती पर भेजकर वो कैसे जी पाया है।

 

Phool khilte hain baharon ka sama hota hai,
Aise Mausam main to pyar javaan hota hai,
Dil ki batoon ko to honton se nahin kehe,
Yeh afsana to nigahon se bayan hota hai..

फूल खिलते हैं बहारों का समा होता है,
ऐसे मौसम में ही तो प्यार जवां होता है,
दिल की बातों को होठों से नहीं कहते,
ये फ़साना तो निगाहों से बयाँ होता है।

Enjoyed this video?
"No Thanks. Please Close This Box!"